10 वीं के बाद UPSC कैसे करें

10 वीं के बाद आईपीएस/आईएएस: नमस्कार दोस्तों इस लेख में मैं आपको बताने जा रहा हूं कि आप UPSC परीक्षा के द्वारा IAS और IPS की तैयारी कैसे कर सकते हैं। IAS/IPS देश के लाखों उम्मीदवारों का ड्रीम करियर होता है।

Freelancing क्या हैं और Freelancing से घर बैठे पैसे कैसे कमाये?

भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) और भारतीय पुलिस सेवा IPS प्रतियोगिता में शामिल होने पर विचार करना आसान नहीं है, लेकिन सही दृष्टिकोण वाले उम्मीदवार के लिए असंभव नहीं है।

आइए जानते हैं इस परीक्षा के बारे में –

यूपीएससी क्या है (UPSC Full form)

UPSC Full form – Union Public Service Commission

UPSC राष्ट्रीय स्तर की सिविल सेवा परीक्षा है जिसके तहत भारतीय केंद्र और राज्य सरकार के 24 सेवाओं के लिए भर्ती की जाती है। यू.पी.एस.सी यह परीक्षा हर साल आयोजित करता है।

सिविल सेवा परीक्षा (UPSC exam in hindi) संघ लोक सेवा आयोग द्वारा आयोजित एक राष्ट्रव्यापी प्रतियोगी परीक्षा है।

यूपीएससी परीक्षा द्वारा लोग भारतीय सेवा में शामिल होते हैं।

UPSC Motivational quotes
UPSC Motivational quotes

यह भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS), भारतीय विदेश सेवा (IFS) और भारतीय पुलिस सेवा (IPS) सहित भारत सरकार की उच्च सिविल सेवाओं में भर्ती के लिए महत्वपूर्ण परीक्षा है।

यू.पी.एस.सी सिविल सेवाओं में मिलने वाले 24 पद:

  • 1. भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)
  • 2. भारतीय पुलिस सेवा (IPS)
  • 3. भारतीय वन सेवा (IFoS)
  • 4. भारतीय विदेश सेवा (IFS)
  • 5. भारतीय सूचना सेवा (IIS)
  • 6. भारतीय डाक सेवा (IPoS)
  • 7. भारतीय राजस्व सेवा (IRS)
  • 8. भारतीय व्यापार सेवा (ITS)
  • 9. रेलवे सुरक्षा बल (RPF)
  • 10. पॉन्डीचेरी सिविल सेवा (PCS)
  • 11. पॉन्डिचेरी पुलिस सेवा (PPS)
  • 12. दिल्ली, अंडमान और निकोबार आइलैंड्स Civil Services(DANICS)
  • 13. दिल्ली, अंडमान और निकोबार आईलैंड्स, लक्षद्वीप, दमन दीव, दादर नागर हवेली पुलिस सेवा (DANIPS)
  • 14. इंडियन ऑडिट एंड अकाउंट्स सर्विस (IAAS)
  • 15. इंडियन सिविल अकाउंट्स सर्विस (ICAS)
  • 16. इंडियन कॉर्पोरेट लॉ सर्विस (ICLS)
  • 17. इंडियन डिफेंस एस्टेट सर्विस (IDES)
  • 18. इंडियन डिफेंस अकाउंट्स सर्विस (IDAS)
  • 19. इंडियन ऑर्डिनेंस फैक्ट्रीज सर्विस (IOFS)
  • 20. इंडियन कम्युनिकेशन फाइनांस सर्विस (ICFS)
  • 21. इंडियन रेलवे अकाउंट्स सर्विस (IRAS)
  • 22. इंडियन रेलवे पर्सनल सर्विस (IRPS)
  • 23. इंडियन रेलवे ट्रैफिक सर्विस (IRTS)
  • 24. आर्म्ड फोर्सेस हेडक्वार्टर्स सिविल सर्विस (AFHCS)

जरूर पढ़े: 12th Ke Baad Kya Kare 12वीं के बाद कैरियर ऑप्शंस

UPSC के चयनित उम्मीदवार को रैंक के आधार पर मिलने वाले पद:

यदि आप 10वीं या 12वीं कक्षा के बाद आईएएस/आईपीएस की तैयारी करना चाहते हैं तो आपको यूपीएससी परीक्षा में रैंक के अनुसार मिलने वाली नौकरी पर भी विचार करना चाहिए।

रैंक के आधार पर नौकरियां (उच्च से निम्न):

  • भारतीय प्रशासनिक सेवा (IAS)
  • भारतीय पुलिस सेवा – आईपीएस (IPS)
  • भारतीय राजस्व सेवा (IRS)
  • भारतीय विदेश सेवा (IFS)

इनमें से आई.ए.एस/ आई.पी.एस भारतीय सरकारी सेवाओं में सबसे सम्मानजनक पदों में से एक है।

इन पदाधिकारियों को लोक सेवा अधिकारियों के तौर पर जाना जाता है।

IAS Kaise Bane (इंडियन एडमिनिस्ट्रेटिव सर्विस)

UPSC परीक्षा में टॉप रैंक पाने वाले उम्मीदवार को आई..एस का पद दिया जाता है।

आई.ए.एस अधिकारी संसद में बनने वाले कानून को अपने अंतर्गत आने वाले क्षेत्रों में लागू करवाते हैं। नई नीतियां या कानून बनाने में योगदान निभाते है। ये कैबिनट सेकेट्री, अंडर सेकेट्री भी बन सकते है।

IPS  – इंडियन पुलिस सर्विस (10 वीं के बाद आईपीएस कैसे करे)

आई.पी.एस अधिकारी का  मुख्य कार्य अपने कार्यक्षेत्र में कानून व्यवस्था बनाए रखना होता है।

आई.पी.एस अधिकारी को मिलने वाले पद:

  • भारतीय पुलिस सेवा कैडर
  • पुलिस अधीक्षक (एस.पी) (SP)
  • उप महानिरीक्षक (डी.आई.जी) (DIG)
  • इंस्पेक्टर जनरल (आई.जी) (IG)
  • अतिरिक्त महानिदेशक (ए.डी.जी) (ADG)
  • पुलिस महानिदेशक (डी.जी) (DG)

(UPSC exam in Hindi) यू.पी.एस.सी की परीक्षा में शामिल होने वाले अधिकतर अभ्यर्थी आई.ए.एस/ आई.पी.एस बनने का ही सपना देखते है।  यू.पी.एस.सी परीक्षा सिर्फ़ स्नातक (ग्रैजुएशन) के बाद ही दी जा सकती है। ग्रेजुएशन किसी भी स्ट्रीम (आर्ट्स/ साइंस/ कॉमर्स) से हो सकती है।

UPSC Exam परीक्षा पास करने के लिए बहुत कठिन मेहनत चाहिए। इसलिए इसकी तैयारी आपको 10वीं के बाद ही शुरु कर देनी चाहिए।

यू.पी.एस.सी परीक्षा की तैयारी के लिए आप नीचे दिए गए टिप्स को जरूर ध्यान में रखें (10 वीं के बाद आईपीएस/ आईएएस – UPSC))

  • एग्जाम की पूरी जानकारी ले।
  • Syllabus को अच्छे से समझे।
  • अध्ययन सामग्री एकत्रित करें।
  • पढ़ाई के साथ-साथ लिखना भी जरूरी है।
  • लघु निबंध।
  • अंग्रेजी से दूसरी भाषा में अनुवाद और  किसी अन्य भाषा से अंग्रेजी भाषा में अनुवाद
  • बार-बार मोक टेस्ट देकर आंसर राइटिंग की जमकर प्रैक्टिस करें।
  • रोज़ाना न्यूज़ पेपर और मैगज़ीन पढ़े और करंट अफेयर्स से परिचित रहे।
  • जनरल अवेयरनेस बढ़ाएं क्योंकि 30-40 सवाल करेंट अफेयर्स और जनरल नॉलेज के होते है।

यूपीएससी परीक्षा के चरण – (10 वीं के बाद आईपीएस/ आईएएस की तैयारी कैसे करे)

  • प्रीलिम्स
  • मेन परीक्षा
  • इंटरव्यू ( साक्षात्कार )

जानिए यूपीएससी परीक्षा पास करने के टिप्स, टॉपर के द्वारा

यू.पी.एस.सी (UPSC) प्रीलिम्स परीक्षा का पैटर्न:

प्रीलिम्स – यह परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा है।

इसमें 2 पेपर होते हैं।

  • सामान्य अध्ययन I
  • सामान्य अध्ययन II

UPSC Exam सामान्य अध्ययन I का पैटर्न:

अवधि: 2 घंटे

प्रश्न संख्या: 100

कुल अंक: 200

नेगेटिव मार्किंग: हां (One Third)

टाइप: Objective Type

UPSC Exam सामान्य अध्ययन II का पैटर्न:

अवधि: 2 घंटे

प्रश्न संख्या: 80

कुल अंक: 200

नेगेटिव मार्किंग: हां (One Third)

टाइप: Objective Type

First पेपर में प्राप्त अंको के आधार पर कटऑफ बनती है। दूसरा पेपर सीसैट क्वालीफाइंग पेपर होता है।

पहले पेपर में राजनीति शास्त्र, जनरल साइंस,

अर्थ शास्त्र और जनरल स्टडीज (ऐतिहासिक, भूगोल) और करंट अफेयर्स से जुड़े सवाल पूछे जाते हैr।

Second पेपर में क्वांटिटेटिव एप्टिट्यूड (quantitative aptitude) के आधार पर सवाल पूछे जाते है।

इसमें पास होने के लिए न्यूनतम 33% अंक ज़रूरी है। यह परीक्षा पास करने के बाद ही हम मुख्य परीक्षा में भाग ले सकते है।

मेन परीक्षा – यह मुख्य परीक्षा है। आरंभिक परीक्षा में पास होने के बाद ही उम्मीद्वार मेन परीक्षा में भाग ले सकते है। पारंपरिक परीक्षा की तरह मेन पेपर भी क्वालीफाइंग पेपर होता है।

इस परीक्षा मे पास होने के बाद ही उम्मीदवार को इंटरव्यू में जाने का मौका मिलता है।

यूपीएससी की मुख्य परीक्षा का पैटर्न

विषयकुलअंक
पेपर ए: अनिवार्य भारतीय भाषा300
पेपर बी: अंग्रेजी300
पेपर I: निबंध250
पेपर II: सामान्य अध्ययन I250
पेपर III: सामान्य अध्ययन II250
पेपर IV: सामान्य अध्ययन III250
पेपर V: सामान्य अध्ययन IV250
पेपर VI: वैकल्पिक I250
पेपर VII: वैकल्पिक II250

साक्षात्कार (इंटरव्यू) – इंटरव्यू (275) अंक का होता है।

उपरोक्त वर्णित सभी विषयों को ध्यान में रखकर ही पढाई करनी चाहिए।

एक निर्धारित लक्ष्य, समय-सीमा, धैर्य, लगन और एकाग्रता, से ही इस परीक्षा को पास किया जा सकता है।

आई..एस की तैयारी के लिए कुछ प्रसिद्ध किताबें:

एम. लक्ष्मीकांत

इंडियन आर्ट एंड कल्चर

सर्टिफिकेट फिजिकल एंड ह्यूमन जियोग्राफी

ऑक्सफोर्ड स्कूल एटलस

इंडियन इकोनॉमी

ब्रीफ हिस्ट्री ऑफ माडर्न इंडिया

यू.पी.एस.सी की ऑनलाइन तैयारी के लिए कुछ प्रचलित कोचिंग ऐप्स:

1. सिविल्सडेली (Civilsdaily)

2. आई.ए.एस.बाबा (IASbaba)

3. दि हिन्दू (The Hindu)

आई..एस की तैयारीरैंक होल्डर्स से सीखें

प्रतिभा वर्मा  (ऑल इंडिया रैंक 3)

‘मैं यही कहूंगी कि लगातार अभ्यास की बहुत जरूरत पड़ती है। प्रिलिम्स से पहले मैंने करीब 30 से 40 अधिक प्रैक्टिस शीट्स तैयार की थीं। मॉक इंटरव्यू ने मेरी बहुत मदद की।‘

अभिषेक सर्राफ  (ऑल इंडिया रैंक 8)

‘प्रत्येक पेपर और प्रत्येक विषय को समर्पित समय में संतुलन होना जरूरी है। मैंने पहले प्रयास के लिए लगातार 7 से 8 महीनों तक उत्तर लिखने का प्रयास किया’।

संजीदा मोहपात्रा  (ऑल इंडिया रैंक 10)

संजीदा आई.ए.एस की तैयारी के साथ दिन में पांच घंटे काम भी करती थीं। ध्यान गुणवत्ता युक्त पढ़ाई पर होना चाहिए। वो कहती हैं, “मैं दावे से कह सकती हूं कि साप्ताहिक और मासिक शेड्यूल नें मेरी बहुत मदद की”।

सरकारी अफसर में सबसे बड़ा पद IAS Officer का होता है। यह सबसे कठिन भारतीय परीक्षाओं में से एक है इसलिए मेहनत कीजिए और अपने सपने को साकार कीजिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top