12 वीं के बाद क्या करे

12th Ke Baad Kya Kare: आज विद्यार्थियों के पास ग्रेजुएशन और कैरियर के लिए बहुत सारे ऑप्शंस उपलब्ध है, बस जरूरत है अपनी रूचि और क्षमता के अनुसार सही विकल्प चुनने की। और अगर आप इन औपचारिक ज्ञान को अलग रखते हैं तो और भी कई विकल्प हैं।

अनुक्रम छुपाएँ

जरूर पढ़ें: 10 वीं के बाद आईपीएस / आईएएस कैसे करें?

हमें केवल इंजीनियर और डॉक्टर ही नहीं बनाना हैं बल्कि यहां बराबर संख्या में कलाकार, व्यवसायी, खिलाड़ी तैयार करने की जरूरत है। और आपको पता होना चाहिए कि आप 12th ke baad kya kare, 12वीं के बाद करियर विकल्प कहां हैं?

मैं आपको 12वीं के बाद कुछ लाभदायक करियर विकल्प मैं बता रहा हूँ, आप 12th ke baad kya kar सकते हैं।

12वीं के बाद क्या करें? (12th Ke Baad Kya Kare Career Options)

आइए जानते है 12वीं के बाद उपलब्ध ग्रेजुएशन और कैरियर ऑप्शंस।

विद्यार्थी तीन स्ट्रीम से 12वीं पास कर सकते है-

  • कॉमर्स
  • आर्ट्स/ ह्यूमैनिटी
  • साइंस – मेडिकल/ नॉन-मेडिकल

विद्यार्थियों को 12वीं के बाद अपना ग्रेजुएशन कोर्स चुनते समय निम्न लिखित बातों का जरूर ध्यान रखना चाहिए-

1. विद्यार्थी अपनी रुचि के अनुसार कोर्स चुनें।

2. कोर्स/ स्ट्रीम की पूरी जानकारी ले।

3. भावी कैरियर ऑप्शंस/ करियर ग्रोथ/ working hours/ pay scale  की पूरी जानकारी ले।

साइंस स्ट्रीम स्ट्रीम से 12वीं के बाद कैरियर ऑप्शंस – 12th Ke Baad Kya Kare

मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए – 12th ke baad kya kare

अगर आपने अपने लिए चिकित्सक पेशे ( doctor) को चुना है तो आपके लिए सिर्फ एक ही विकल्प है- मेडिकल स्ट्रीम

12वीं कक्षा (फीजिक्स, केमेस्ट्री, बायोलॉजी विषय) – लोकप्रिय कोर्सेज – एम.बी.बी.एस/ फार्मेसी (दवाएं बनाना, दवाओं का असर, नशीली दवाओं की प्रतिरक्षा)/ कृषि विज्ञान/ प्राणीशास्त्र/ जेनेटिक्स/ माइक्रोबायोलॉजी/ फिजियोथेरेपी/ नर्सिंग/ बी.डी.एस।

नॉन-मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए – 12th ke baad kya kare

इंजीनियरिंग – 12वीं के बाद सबसे ज्यादा डिमांड वाला कॉम्पिटेटिव कोर्स।

शीर्ष इंजीनियरिंग कॉलेजों में (जेईई) इंट्रेंस एग्जाम के बाद प्रवेश संभव।

अवधि: 4 साल

बी.टेक/ मैकेनिकल/ इलेक्ट्रिकल/ कंप्यूटर साइंस/ सिविल एंड बीटेक्नोलॉजी/ नैनो टेक्नोलॉजी/ टेक्सटाइल/ पेट्रोकेमिकल/ ओसियन इंजीनियरिंग/ बी.एस.सी/ बी.सी.ए/ बी.आर्क।

जरूर पढ़ें: Coding क्या है और इसे कैसे सीखे?

आर्ट्स/ह्यूमैनिटी स्ट्रीम से 12th ke baad कैरियर ऑप्शंस – 12th Ke Baad Kya Kare

बी.ए (Bachelor of Arts)

वर्षों से 12वीं आर्ट्स से करने वालों की पहली पसंद- बैचलर ऑफ ऑर्ट्स (BA)। 

इंग्लिश, हिंदी, इकोनॉमिक्स, पॉलिटिकल साइंस, सोशियोलॉजी, हिस्ट्री, इंटरनेशनल रिलेशंस आदि सब्जेक्ट्स में ऑनर्स भी कर सकते है।

बैकिंग, रिटेल, प्रशासनिक सेवाओं या अन्य सरकारी नौकरियों के लिए उपयुक्त।

(एल.एल.बी) (LLB)

इंटीग्रेटेड एल.एल.बी कोर्स (Integrated LLB)।

अवधि: 5 साल

बी.एच.एम (Bachelor in Hotel Management)

होटल इंडस्ट्री और हॉस्पिटैलिटी में भी कैरियर के अच्छे विकल्प है।

बी.एफ. (Bachelor in Fine Arts)

अगर आप क्रिएटिव हैं, कुछ अलग करना चाहते हैं, तो चित्रकारी, मूर्तिकला, फोटोग्राफी में कैरियर बना सकते है।

बी.एफ.डी (Bachelor in Fashion Designing)

निफ्ट (NIFT) फैशन डिजाइनिंग कोर्स के लिए भारत का सबसे बड़े संस्थान। फैशन की दुनिया में कैरियर बनाने के लिए एक शानदार विकल्प।

बी.जे.एम.सी (Bachelor in Journalism and Mass Communication)

मीडिया हाउसेस में नौकरी/ कंटेंट राइटर/ रेडियो/ फिल्म मेकिंग/ सिनेमेटोग्राफी/ क्रिएटिव राइटिंग जैसे क्षेत्रों में आगे बढ़ सकते हैं।

टूर एंड ट्रैवल (Tour and Travel)

अगर आपको घूमने का शौक है, तो अपने शौक और कैरियर को मिलाइए और टूरिज्म इंडस्ट्री को अपनाइए।

12th ke baad कोर्सेस

बी.ए इन ट्रैवल एंड टूरिज्म मैनेजमेंट

बी.बी.ए इन टूर एंड टैवल मैनेजमेंट, बी.ए ऑनर्स इन टूर एंड ट्रैवल,

बी.ए इन टूरिज्म स्टडीज जैसे कर सकते हैं।

नौकरी –  फ्रीलांस/ एजेंसी / ट्रैवल ब्लॉगर

बी.एस.डब्ल्यू (Bachelor in Social Work)(BSW)

शिक्षा – सामाजिक सेवा के क्षेत्र में कार्य।

नौकरी – नेशनल व इंटरनेशनल लेवल के एनजीओ (NGOs) में /  मल्टीनेशनल कंपनियां में सोशल वर्क के लिए।

टीचर ट्रेनिंग कोर्सेज (Teacher Training Courses)

योग्य शिक्षक बनने के लिए  

बी.एड (B.Ed)/ इंटीग्रेटेड बी.एड (Integrated B.Ed)/ बी.पी.एड (बैचलर ऑफ फिजिकल एजुकेशन)/ बी.ई.एड (बैचलर ऑफ एलीमेंट्री एजुकेशन)/ डी.ई.आई.ई.डी(डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन)/ एन.सी.टी.ई (नर्सरी टीचर ट्रेनिंग) आदि कोर्स किए जा सकते हैं।

इसके अलावा ग्राफिक डिजाइनिंग/ वेब डिजाइनिंग/ डिजास्टर मैनेजमेंट/ ई-कॉमर्स/ डिजिटल मार्केटिंग/ एडिटिंग जैसे कई कोर्सेस है जो आज बहुत प्रचलित है।

कॉमर्स स्ट्रीम से 12वीं के बाद कैरियर ऑप्शंस – 12th Ke Baad Kya Kare

अगर आपने 12वीं मे कॉमर्स स्ट्रीम को चुना है तो आगे की पढ़ाई के लिए अकाउंट्स, फाइनेंस, बिजनेस स्टडीज जैसे सब्जेक्ट्स अच्छे विकल्प हैं।

बैचलर ऑफ कॉमर्स(B.Com)

कॉमर्स से 12वीं के बाद सबसे कॉमन – बी.कॉम (अकाउंट्स/ स्टेटिस्टिक्स/ मैनेजमेंट/ ह्यूमन रिसोर्सेज – मुख्य सब्जेक्ट)

इकोनॉमी के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए बेस्ट ऑप्शन।

बैचलर ऑफ लेजिस्लेटिव लॉ(LLB)

 LLB – एक बेहतर विकल्प।

एल.एल.बी की डिग्री बार काउंसिल ऑफ इंडिया प्रदान करता है। आप अपनी इच्छानुसार फैमिली लॉयर/ प्रॉपर्टी लॉयर/ कंपनी लॉयर बन सकते है।

चार्टर्ड अकाउंटेंट (CA)

एक प्रोफेशनल कोर्स जिसका परिणाम सिर्फ 3% (100 में से सिर्फ 3 बच्चे पास) निकाला जाता है। यह सिर्फ कॉमर्स बैकग्राउंड के लिए ही है।

बैचलर ऑफ बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन (BBA)

बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में कैरियर के लिए एक बेहतर विकल्प।

बिजनेस/ कॉर्पोरेट ऑपरेशन संबंधी संपूर्ण जानकारी।

कंपनी सेक्रेटरी (CS)

एडमिनिस्ट्रेशन कोर्स जोकि इंस्टिट्यूट कंपनी सेक्रेट्री ऑफ इंडिया (ICSI) कराती है ।

बैचलर ऑफ इकोनॉमिक्स

इकोनॉमिक्स फाइनेंस/ एनालिटिकल मेथड्स/ माइक्रो-इकोनॉमिक्स/ मैक्रो-इकोनॉमिक्स की जानकारी।

जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन

मीडिया या पी.आर क्षेत्र के लिए बेहतरीन विकल्प।

बिजनेस/ फाइनेंस की जानकारी के साथ मीडिया मे कैरियर।

इकोनॉमिक्स की जानकारी के कारण प्रिंट/ ऑनलाइन या कंटेंट क्रिएशन जैसे बहुत से विकल्प मिलते है।

बैचलर ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज (BM)

मैनेजमेंट के क्षेत्र में कैरियर बनाने के लिए बेहतरीन विकल्प।

मैनेजिंग स्किल्स/ रिसर्च मेथड/ लीडरशिप/ ह्यूमन रिसोर्स की जानकारी।

सर्टिफाइड फाइनेंशियल प्लानर

पर्सनल फाइनेंस/ इंश्योरेंस प्लानिंग/ वेल्थ मैनेजमेंट की जानकारी ।

कॉस्ट एंड मैनेजमेंट अकाउंटेंट (CMA)

मैनेजमेंट अकाउंटिंग/ कमर्शियल फंडामेंटल/ इंडस्ट्रियल लॉ/ फाइनेंस/ मैनेजमेंट मे प्रवीणता।

अधिकतर सभी कोर्सेज की अवधि 3-4 साल होती है।

अंतिम शब्द

आशा है आपको यह लेख अच्छा लगा होगा। यदि आपके पास कोई भी सवाल है तो मुझे बताये।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top