affiliate marketing in hinid

Affiliate marketing क्या है और इससे पैसे कैसे कमाए, जानना चाहते हैं तो इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें क्योंकि यहां हमने Affiliate marketing से जुड़े हर एक तथ्य को विस्तार से समझाया है ।

ताकि हमारे पाठकों की एफिलिएट मार्केटिंग से जुड़ी सभी समस्याओं का समाधान हो सके।

Affiliate Marketing क्या है?

Affiliate marketing पैसे कमाने का एक ऐसा तरीका है, जिसमें जब आप किसी कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विस का प्रचार करते हैं या बेचवाते हैं तो उसके बदले में आपको कमीशन मिलता है।

आसान शब्दों में कहें तो, किसी कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विस को बेचने पर मिलने वाले कमीशन के जरिए पैसे कमाने की प्रक्रिया एफिलिएट मार्केटिंग कहलाती है।

खास बात यह है कि Affiliate marketing करने के लिए आपको घर-घर जाकर सामान बेचने की जरूरत नहीं है। यह पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन होती है।

Affiliate Marketing काम कैसे करता है

जब आप किसी भी कंपनी के एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करते हैं तो जॉइनिंग के बाद आपको उस कंपनी के प्रोडक्ट या सर्विस को बेचना होता है।

प्रोडक्ट को बेचने के लिए आपको कंपनी की वेबसाइट पर जाकर उस प्रोडक्ट का एक unique link generator करना होता है।

अब इस लिंक को आपको शेयर करना होगा और जब भी कोई व्यक्ति आपके दिए गए लिंक से कोई सामान खरीदेगा तो उसके बदले में आपको कुछ रूपए कमीशन के रुप में मिलेंगे।

अलग-अलग products पर कमीशन की रकम अलग-अलग होती है।

Affiliate marketing की एक और खास बात यह है कि जब भी कोई व्यक्ति आपके दिए हुए लिंक पर क्लिक करने के बाद, दो दिन के अंदर उस कम्पनी की वेबसाइट या app से कोई भी प्रोडक्ट खरीदेगा, तब भी आपको कमीशन मिलेगा।

Affiliate Marketing से जुड़े कुछ विशेष शब्द

एफिलिएट मार्केटिंग के बारे में और अच्छी तरह से समझने के लिए आपको इस मार्केट से जुड़े कुछ विशेष शब्दों को जानना होगा ताकि आपको आगे चलकर इसमें कोई परेशानी ना हो।

Affiliate Commission

कंपनी का सामान बेचवाने के बदले में कम्पनी जो पैसे उस व्यक्ति को देती है, उसे कमीशन कहते हैं।

Affiliate Program

ऐसा प्रोग्राम, जिसमें कंपनी प्रोडक्ट को बेचने के बदले seller को कुछ परसेंट का कमीशन देती है, एफिलिएट प्रोग्राम कहलाता है।

Affiliates

जो भी व्यक्ति एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम को ज्वाइन करता है और एफिलिएट मार्केटिंग का काम करता है उसे Affiliates कहा जाता है।

Affiliate Link

प्रत्येक प्रोडक्ट को बेचने के लिए कंपनी की तरफ से एक विशेष लिंक (unique link) दिया जाता है, जिसे एफिलिएट लिंक कहते हैं।

Affiliates ID

एफिलिएट प्रोग्राम जॉइन करने वाले प्रत्येक व्यक्ति को एक विशेष आईडी दी जाती है, जिसे एफिलिएट आईडी कहते हैं।

एफिलिएट आईडी की मदद से आप अपने एफिलिएट अकाउंट में लॉगिन करके आपके द्वारा बेचे गए सामान पर मिला कमीशन देखने के साथ ही कमाए गए पैसे बैंक में ट्रांसफर भी कर सकते हैं।

Payment Threshold

Payment Threshold वह निश्चित रकम होती है जिसे कमाने के बाद ही आप पैसे बैंक में ट्रांसफर कर सकते हैं।

उदाहरण के लिए, अमेजॉन एफिलिएट पर minimum cheque threshold 2500 रूपए हैं।

यानि जब आप 2500 रूपए कमीशन के जरिए कमा लेंगे तब ही पैसे बैंक में ट्रांसफर कर सकेंगे।

Affiliate marketing से पैसे कैसे कमाएं ?

एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए सबसे पहले एमेजॉन, फ्लिपकार्ट या स्नैपडील जैसी कंपनी के एफिलिएट प्रोग्राम को जॉइन करें।

एफिलिएट प्रोग्राम को ज्वाइन करने के लिए कोई फीस नहीं लगती है। यह बिल्कुल फ्री है।

अब आपको जिस भी प्रोडक्ट को बेचना है, उसका लिंक generate करें।

अब इस लिंक को अपने ब्लॉग, यूट्यूब चैनल, टेलीग्राम चैनल या सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे – फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्वीटर आदि पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें।

आपके प्रोडक्ट का लिंक जितने ज्यादा लोगों तक पहुंचेगा उतनी ही ज्यादा संभावना होगी कि लोग आपके लिंक से सामान खरीदेंगे।

एक बार जब कोई व्यक्ति आपके दिए हुए लिंक से सामान खरीद लेगा तब उस प्रोडक्ट आपकी जितनी भी कमीशन बनती है वह सीधे आपके एफिलिएट अकाउंट में आ जाएगी।

Affiliate marketing कैसे करें ?

एफिलिएट मार्केटिंग करने के आपको ज्यादा से ज्यादा लोगों की जरूरत पड़ेगी जो आपके लिंक से सामान खरीद सकें।

ऐसे में आप खुद का ब्लॉग, यूट्यूब चैनल, टेलीग्राम चैनल बनाकर या सोशल मीडिया का सहारा ले सकते हैं। ब्लॉगिंग के माध्यम से Affiliate marketing – Blogging Tips in Hindi

यूट्यूब चैनल से एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें

आप Top 10 products का एक यूट्यूब चैनल बना सकते हैं जहां आपको प्रोडक्ट्स का review देना होगा।

आपने जो प्रोडक्ट बताएं होंगे उन सभी का एफिलिएट लिंक आप वीडियो के description section में दें।

जब लोग आपके यूट्यूब वीडियो को देखेंगे तो 10 में से किसी एक product को जरूर खरीदना चाहेंगे और फिर लोग आपके लिंक से product जरूर खरीद लेंगे।

टेलीग्राम चैनल से एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें

खुद का टेलीग्राम चैनल बना कर अच्छे-अच्छे प्रोडक्ट्स की फोटो और एफिलिएट लिंक चैनल पर डालें।

अब अपने टेलीग्राम चैनल को प्रमोट करें। जैसे-जैसे टेलीग्राम चैनल पर आपके सब्सक्राइबर बढ़ते जाएंगे वैसे-वैसे लोग आपके लिंक से सामान भी खरीदने लगेंगे।

ब्लॉग पर एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करें

ब्लॉग पर एफिलिएट मार्केटिंग करने के लिए आप किसी एक प्रोडक्ट या फिर टॉप 10 प्रोडक्ट का भी रिव्यू लिख सकते हैं।

रिव्यू लिखने के साथ ही प्रोडक्ट का एफिलिएट लिंक या बैनर लगाएं।

अगर आपके ब्लॉग पर visitors की संख्या ज्यादा है तो निश्चित तौर पर आप एफिलिएट मार्केटिंग से अच्छी कमाई कर पाएंगे।

स्पेशल टिप – किसी एक ही विषय पर अपना ब्लॉग या टेलीग्राम चैनल या यूटयूब चैनल बनाएं।

मतलब ऐसा ना हो कि आज आप मोबाइल बेच रहें तो कल मेकअप प्रोडक्ट बेचने लगें।

ऐसा करने पर आपके सब्सक्राइबर या viewers को पसंद नहीं आयेगा और वे आपका चैनल छोड़ देंगे।

सोशल मीडिया पर affiliate marketing करें

अगर आपके इंस्टाग्राम, फेसबुक और टि्वटर पर फॉलोअर्स की संख्या ज्यादा है तो वहां भी आप एफिलिएट लिंक शेयर करके अच्छी कमाई कर सकते हैं।

Affiliate marketing से जुड़े अक्सर पूछे जाने वाले सवाल (FAQs in Hindi)

Popular Affiliate Marketing की websites कौन-कौन सी हैं?

वैसे तो बहुत सी कंपनियां Affiliate Marketing प्रोग्राम चलाती हैं लेकिन इनमें से जो ज्यादा प्रसिद्ध हैं, उनके नाम है-
Amazon Affiliate
Flipkart Affiliate
Snapdeal Affiliate
eBay
Clickbank
Commision Junction

Affiliate program join कैसे करें?

किसी भी कंपनी के Affiliate program को ज्वॉइन करने के लिए आप गूगल पर कंपनी के नाम के साथ affiliate लिख कर सर्च करें। जैसे – Amazon Affiliate या Flipkart Affiliate.
इसके बाद sign in करने के लिए मांगी गई सारी details सही-सही भरकर रजिस्टर कर लें।
बस इतना करते ही आप उस कंपनी के Affiliate program में join हो जाएंगे।

अमेज़न एफिलिएट मार्केटिंग कैसे करे?

अमेज़न एफिलिएट मार्केटिंग प्रोग्राम ज्वाइन करने के सबसे पहले गूगल पर Amazon Affiliate सर्च करें।

अब sign in के आइकन पर क्लिक करके वहां मांगी गई सारी जानकारी को सही-सही भरें।
 
वहां आपसे Name, Address, Email Id, Mobile Number, Pan card Detail, Blog/Website Url ( जहां आप कंपनी के product का प्रचार करेंगे), Payment Details (जहां आप चाहते हैं कि आपकी सारी कमाई भेजी जायेगी) मांगी जाएगी।
 
अपनी सारी details भरने के बाद register पर क्लिक करें।
 
इसके बाद अमेजन आपकी ब्लॉग या website की जांच करेगी। अगर सब सही रहा तो आपकी एफिलिएट आईडी बन कर तैयार हो जायेगी।
 
आपकी एफिलिएट आईडी की सारी जानकारी आपके ईमेल आईडी पर भेज दी जाएगी।
 
एफिलिएट आईडी से लॉगिन करके आप अपने एफिलिएट अकाउंट के डैशबोर्ड पर पहुंच जायेंगे।
 
एफिलिएट अकाउंट के डैशबोर्ड से आप किसी भी प्रोडक्ट को बेचने के लिए लिंक generate कर सकते हैं।

क्या Google Adsense और Affiliate marketing का use एक साथ किया जा सकता है?

जी हां। आप ऐसा कर सकते हैं।
बड़े बड़े ब्लॉगर और यूट्यूबर आजकल इसी तरीके से लाखों कमा रहे हैं।

क्या बिना blog या website के एफिलिएट मार्केटिंग शुरू नहीं किया जा सकता?

ऐसा बिल्कुल भी नहीं है कि बिना blog या website के एफिलिएट मार्केटिंग शुरू नहीं किया जा सकता।
पर अक्सर लोग एफिलिएट मार्केटिंग के लिए ब्लॉग या वेबसाइट का सहारा लेते हैं क्योंकि वहां उन्हें ढेर सारे visitors मिल जाते हैं।

Affiliate Marketing के जरिए कितने पैसे कमाए जा सकते हैं?

Affiliate Marketing की कमाई पूरी तरह से इस बात पर निर्भर करती है कि आपके एफिलिएट लिंक से ज्यादा से ज्यादा लोग सामान खरीदें।
बड़े बड़े ब्लॉगर और यूट्यूबर आज एफिलिएट मार्केटिंग के जरिए लाखों कमा रहे हैं।

Summary

इस आर्टिकल में हमने आपको Affiliate marketing क्या है और इससे पैसे कैसे कमाए से जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी दी।

अगर फिर भी Affiliate marketing से जुड़ा कोई प्रश्न आपके में हो तो कमेंट करके जरूर पूछें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top