C Programming in Hindi

C Programming Language क्या है: अगर आप कंप्यूटर फील्ड से हैं तो आपको इस बात की जानकारी अच्छे से होगी कि कंप्यूटर को निर्देश देने के लिए अनेक प्रकार के languages का use किया जाता है। इन्हीं languages में का एक प्रकार C language है। अगर आप C language को सीखना चाहते हैं तो आपको C languages से सम्बन्धित सम्पूर्ण जानकारी को हासिल करना होगा। जैसे C language kya hai aur kaise sikhe etc. इसके लिए आप हमारे आज के आर्टिकल को फॉलो करें।

Python Kaise Sikhe – Top Python courses on Udemy in Hindi

C Programming Language क्या है?

सी लैंग्वेज system programming language का एक प्रकार है। C Programming Language की सहायता से आप आसानी से सॉफ्टवेयर, एप्लीकेशन और फर्मवेयर का निर्माण कर सकते हैं।

आप इस तरह से समझ सकते हैं, C Language एक coading यानी एक भाषा है, जिसके द्वारा हम कंप्यूटर को निर्देश देते हैं कि कंप्यूटर को क्या काम करना है।

MS Excel क्या है और इसे कैसे सीखें? (What is MS Excel in Hindi )

C Language (C Programming Language) kaise Sikhe

C Programming Language को सीखने के लिए आपको सबसे पहले सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज का बेसिक सीखना होगा।

सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज ( C Programming Language) का बेसिक ज्ञान

चाहे किसी भी चीज को सीखना हो, एक Beginner के लिए यह आवश्यक है कि वह उसे सीखने के लिए लगातार प्रयास करता रहे। फिर चाहे वह सी लैंग्वेज ही क्यों न हो। इसलिए, अगर आप सी लैंग्वेज सीखना चाहते हैं और आप एक Beginner हैं तो इसे पूरा सीखने के लिए आप लगातार प्रयास करते रहें।

सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज सीखने के लिए आपके लिए कोडिंग को समझना बहुत जरूरी हो जाता है। इसलिए आप रोजाना कोडिंग पर पकड़ मज़बूत बनाने के लिए प्रैक्टिस करें।

कोडिंग को सिखने के लिए आपको सिंटेक्स,  हैडर फाइल्स इत्यादि का ज्ञान हासिल करना होगा, कि इनका use कहां कहां पर किया जाता है।

DCA क्या है, जॉब समेत पूरी जानकारी – DCA Course in Hindi

C Language सीखने के लिए सॉफ्टवेयर डाउनलोड करे

C Language सीखने के लिए आपको कोडिंग आना चाहिए और कोडिंग की प्रैक्टिस करने के लिए आपको सबसे पहले एक सॉफ्टवेयर को डाउनलोड करना होगा।

इन्टरनेट पर आपको इसके लिए अनेकों सॉफ्टवेयर देखने मिल जायेंगे लेकीन हम आपको जिस सॉफ्टवेयर के लिए recomment कर रहे हैं वो है Turbo C/C++ ya Vs code.  ये सॉफ्टवेयर C लैंग्वेज के लिए सबसे ज्यादा पोपुलर माना जाता है।

आप टर्बो सी (Turbo c) सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके आसानी से सी लैंग्वेज की कोडिंग की प्रैक्टिस कर सकते हैं।

आप जितना ज्यादा कोडिंग प्रैक्टिस करेंगे आपकी बेसिक पर पकड़ उतनी ही जल्दी होगी।

इस सॉफ्टवेयर की मदद से जब कोई प्रोग्राम बनाकर run करेंगे तो जहां पर आपकी गलती होगी वहां पर error show करेगा। जिससे आप अपने error को समझ कर उसे हटाते जायेंगे। इस तरह बहुत ही आसनी से आपको सी लैंग्वेज आ जाएगी।

Website कैसे बनाये? – वेबसाइट बनाना सीखें [10 मिनट मे]

सी लैंग्वेज के एडवांस के लिए आपको Data Types और variable ke कांसेप्ट समझना होगा

जब आपको सी लैंग्वेज के बेसिक की जानकारी हो जाती है तब आपको कुछ और विषयों के बारे में जानकारी हासिल करनी होगी। जैसे – सिंटेक्स (Syntax), वेरिएबल नेम (Variables name), डेटा टाइप्स (Data Types) etc.

किसी भी डाटा को कंप्यूटर में स्टोर करने के लिए आपको डाटा का नाम और उसका टाइप डालना बहुत ही ज्यादा आवश्यक है। इसलिए आपके पास सिंटेक्स (Syntax), वेरिएबल नेम (Variables name), डेटा टाइप्स (Data Types) etc. का ज्ञान होना चाहिए।

जब इन सभी कांसेप्ट को सही से समझ जाएंगे तभी आप किसी भी प्रोग्राम को बना सकते हैं।

सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज के लिए Function और Keywords का प्रयोग करना सीखें

सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में आपको Function और Keywords का प्रयोग कब, कहां और कैसे करना है, आना चाहिए।

कीवर्ड्स (Keywords) में आपको printf या scanf का क्या प्रयोग है, पता होना चाहिए। इसके साथ ही आपको %d , %f , %s क्या है और इसका use कब किया जाता है, पता होना चाहिए।

ये सारी जानकारी आपके पास होगी, तभी आप सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज को सीख पाएंगे और आपको प्रोग्राम बनाने में कोई परेशानी नहीं होगी।

अब कोई सा भी एक प्रोग्राम बनाएं

अगर ऊपर बताए गए सभी points को आप समझ गए हैं तो अब आप सी लैंग्वेज में कोई भी छोटा प्रोग्राम बनाने की कोशिश करें। आप चाहें तो दो नंबर को जोड़ने वाला प्रोग्राम बना सकते हैं या फिर हेल्लो वर्ल्ड का प्रोग्राम भी बना सकते हैं।

अगर आप प्रैक्टिस करना चाहते हैं तो इन्टरनेट में C Language sample Program सर्च कर सकते हैं। जिसके बाद आपको कई सारे प्रोग्राम देखने को मिल जायेंगे। आप इनमें से किसी का use प्रैक्टिस करने के लिए कर सकते हैं।

C Programming Language की Book

मार्केट में आपको C Programming Language की कई सारी books मिल जाएंगी जहां से आप इस Language को सीख सकते हैं।

Book खरीदने के बाद आप सबसे पहले टॉपिक वाइज प्रोग्राम बनाएं। जो आपको सी लैंग्वेज को सीखने में काफी मदद करेंगे।

यहां आपमें से बहुत से लोग ऐसे होंगे जो book ना खरीद कर इंटरनेट का प्रयोग करके सीखने की सोच रहे हैं।

तो उन लोगों को हम बता दें, इंटरनेट पर आप सही से समझ नहीं पाएंगे कि आपको सी लैंग्वेज के कौन  से टॉपिक को पहले सीखना है या कौन से टॉपिक को बाद में सीखना है।

लेकिन अगर आप बुक लेते हैं तो बुक में आपको सबकुछ टॉपिक वाइज मिल जायेगा। इसलिए, सी लैंग्वेज सीखने के लिए सबसे पहले आप बुक में दिए गए सभी प्रोग्राम को सीखें और फिर आप इंटरनेट का प्रयोग करें।

इस process से आप बहुत ही कम समय में सी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज (C Programming Language) सीख पाएंगे।

आज आपने क्या सीखा?

दोस्तों, हमारे आज के आर्टिकल में आपने C language kya hai aur kaise sikhe के बारे में जाना है।

हम आशा करते हैं कि हमारा आर्टिकल C language kya hai aur C Programming Language kaise Sikhe आपके लिए उपयोगी साबित हुआ होगा।

आपके मन मे इस आर्टिकल (C language kya hai aur kaise sikhe) से संबंधित कोई भी सवाल, सलाह या सुझाव हो तो आप हमें Comment Box में बताएं। धन्यवाद ||

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top