iti subjests

ITI me kitne subject hote hai: इस लेख में आप जानेंगे कि आईटीआई में कितने पाठ्यक्रम हैं, आईटीआई कैसे करें और आईटीआई में आपको कौन से विषय पढ़ने चाहिए।

IPS officer banne ke liye konsa subject lena chahiye?

ITI (आईटीआई) कैसे करें? ITI course full details in Hindi

ITI एक ऐसा कोर्स है जिसे करने के बाद आप सरकारी और प्राइवेट दोनों ही जगहों पर आसानी से नौकरी पा सकते हैं। अगर आप भी ITI (आईटीआई) course करने जा रहे हैं तो हमारा आज का आर्टिकल आपके लिए ही है। आज के आर्टिकल में हमनें ITI (आईटीआई) कैसे करें? / ITI course full details in Hindi से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी दी है।

NDA Kya hai और कैसे ज्वाइन करे?

आईटीआई कोर्स क्या है ? ITI Course information in hindi & ITI Full form

आईटीआई एक इंडस्ट्रियल कोर्स है, जिसका फुलफॉर्म Industrial Training Institutes यानी औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान है। आईटीआई कोर्स में 8वीं, 10वीं और 12वीं पास छात्र एडमिशन ले सकते हैं। इस कोर्स की अवधि 6 माह से 2 साल तक की होती है।

आपको बता दें, आईटीआई में कुल 100 से भी अधिक कोर्स यानि ट्रेड (Trade) आपको देखने को मिल जाएंगे। आप अपनी रूचि के मुताबिक किसी भी कोर्स को चुन सकते हैं। जैसे मैकेनिक , इलेक्ट्रॉनिक , फैशन डिजाइनिंग , कंप्यूटर, फोटोग्राफी आदि। इन कोर्स को करने के बाद छात्र एक अच्छी जॉब व सैलरी पा सकते हैं।

आईटीआई कितने प्रकार की होती है? (ITI में कितने विषय होते हैं?) / ITI me kitne course hote h

जैसा कि हम आपको ऊपर बता चुके हैं, आईटीआई में कुल 100 से भी अधिक विषय होते हैं और छात्रों की सुविधा के लिए आईटीआई (ITI Trade) मुख्य रूप से दो भागों में विभाजित किया गया है –

  1. Engineering Trades
  2. Non-engineering Trades

Engineering Trades in ITI

इंजीनियरिंग ट्रेड्स पूरी तरीके से तकनिकी से जुडी हुई होती है, इसमें छात्र गणित, विज्ञान और टेक्नोलॉजी जैसे विषयों का अध्ययन करते हैं। Engineering Trades के अंतर्गत मुख्य रूप से निम्न Trades शामिल हैं –

  • Electrician (बिजली मिस्त्री)
  • Electricals sector।
  • Automobiles Sector
  • Production and Manufacture Sector
  • Electronic system Maintenance
  • TV Mechanic
  • Radio Mechanic
  • Wire Man
  • Turner
  • Fitter
  • Computer Hardware and Networking
  • Mechanical
  • Plumber
  • Welder etc.

Non-Engineering Trades in ITI

नॉन-इंजीनियरिंग ट्रेड्स में छात्रों को टेक्निकल विषय का अध्ययन नहीं करना होता है। Non-Engineering Trades के  अंतर्गत मुख्य रूप से निम्न Trades शामिल हैं –

  • Computer Operator
  • Photography
  • Food Production
  • Hair and Skincare
  • Hospital House Keeping
  • Agro-Processing
  • Resource Person
  • Fashion Designing
  • Dress Making etc.

ITI में प्रवेश लेने की योग्यता

आईटीआई में प्रवेश लेने के लिए आपको कम  से कम 10 वीं पास होना आवश्यक है, लेकीन कुछ आईटीआई संस्थान आपको ऐसे भी मिल जाएंगे, जहां आठवीं पास लोगों को भी प्रवेश दिया जाता है।

ITI में प्रवेश लेने की आयु सीमा

आईटीआई में प्रवेश पाने के लिए आवेदक की आयु सीमा minimum 14 वर्ष और maximum 40 वर्ष होना चाहिए।

आपको बता दें, ITI में रिजर्व, पूर्व सैनिकों, सैनिकों की विधिवाधों और दिव्यांग छात्रों को आयु सीमा में कुछ छूट भी दी जाती है।

आईटीआई में एडमिशन कैसे लें? – ITI me kitne subject hote hai

आईटीआई में एडमिशन पाने के लिए आपको आईटीआई की ऑफिशियल वेबसाइट (https://iti.nic.in) पर जाकर ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करना होगा। ITI के एडमिशन फॉर्म हर साल जून/जुलाई या फिर अगस्त महीने में में मिलने शुरू हो जाते हैं। एडमिट कार्ड आने पर आपको जाकर Entrance Exam देना होता है।

आईटीआई में एडमिशन मेरिट के अनुसार होता है। आप अपने नजदीकी आईटीआई में जाकर आप अपने सारे सर्टिफिकेट्स वेरिफाई करवा लें।

अगर आपके नंबर अच्छे होंगे तो अपना मनपसंद कोर्स व College’s  चुनने का विकल्प भी मिलेगा।

आपको बता दें, आपको कई प्राइवेट संस्थान ऐसे भी देखें को मिल जाएंगे जो 10वीं और 12वीं के अंक के आधार पर सीधे प्रवेश भी देते हैं।

जबकि सरकारी कॉलेज में एडमिशन के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम से भी गुजरना पड़ सकता है।

जानिए: Coding kaise sikhe

आईटीआई में एडमिशन लेने के लिए जरूरी दस्तावेज में क्या चाहिए?

  • आपकी 8वीं, 10वीं व 12वीं की मार्कशीट
  • आपका आधार कार्ड
  • आपका जाति प्रमाण पत्र (एससी, एसटी और ओबीसी सर्टिफिकेट)
  • आपके बैंक अकाउंट पासबुक
  • अगर आप ऑनलाइन पेमेंट करने जा रहे हैं तो डेबिट कार्ड या फिर क्रेडिट कार्ड

आईटीआई करने की फीस कितनी है?

प्राइवेट सेक्टर से आईटीआई करने पर इंजीनियरिंग ट्रेड्स में फ़ीस आपको 20 हजार से 60 हजार तक देनी पड़ सकती है जबकि सरकारी सेक्टर में इंजीनियरिंग ट्रेड्स से फ़ीस 2 हजार से 10 हजार तक ही देनी होगी।

इसी प्रकार नॉन-इंजीनियरिंग ट्रेड्स से प्राइवेट सेक्टर में फ़ीस आपको 15 हजार से 60 तक देनी होती है जबकि सरकारी सेक्टर में फ़ीस 4 हजार से 15 हजार तक देनी होगी।

आईटीआई में करियर विकल्प – ITI me kitne subject hote hai

अपने आईटीआई डिप्लोमा को सफलता पूर्वक पूरा करने के बाद आपको सरकारी व प्राइवेट दोनों ही संस्थानो में जॉब मिलने के मौके उपलब्ध हो जाते हैं।

प्राइवेट जॉब

आप अगर आईटीआई डिप्लोमा करने के बाद प्राइवेट जॉब करना चाहते हैं तो आप किसी भी बड़ी कंपनी में ( जैसे कॉर्पोरेट में टेक्नीशियन) काम कर सकते हैं या फिर आप चाहें तो खुद का बिज़नेस जैसे इलेक्ट्रिकल्स, प्लम्बर का शॉप इत्यादि भी start कर सकते हैं।

सरकारी नौकरी

अगर आप आईटीआई डिप्लोमा करने के बाद सरकारी जॉब करना चाहते हैं तो आपके लिए रेलवे में जॉब, पब्लिक सेक्टर में भी कई जॉब के विकल्प मौजुद हैं। जैसे – SAIL, GAIL, BHEL इत्यादि।

आज आपने क्या सीखा?

आज के आर्टिकल में हमने आपको आईटीआई कोर्स क्या है, ITI (आईटीआई) कैसे करें?, ITI में कितने विषय होते हैं?, ITI में प्रवेश लेने की योग्यता, आईटीआई में एडमिशन कैसे लें?, आईटीआई में एडमिशन लेने के लिए जरूरी दस्तावेज में क्या चाहिए?, आईटीआई में करियर विकल्प  आदि से संबंधित सम्पूर्ण जानकारी दी है।

हमें आशा है कि आप हमारे आज के आर्टिकल “ITI (आईटीआई) कैसे करें? / ITI course full details in Hindi” से पूरी तरह संतुष्ट हुए होंगे।

लेकिन अगर अब भी आपके मन में हमारे आज के आर्टिकल ITI (आईटीआई) कैसे करें? से जुड़ा कोई भी सवाल या सुझाव हो तो आप हमे कमेंट करके जरूर बताएं।

जानिए: Python kaise sikhe

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top