Operating System kya hai

Operating system kya hai: आज के समय में यदि आप कंप्यूटर की जानकारी नहीं रखते है तो आपको लोग कम पढ़ा लिखा मानते है कंप्यूटर की  उपयोगिता आज के समय में छोटे से लेकर बड़े हर बिजनेस में बढ़ती ही जा रही इस नाते आपको भी इसकी जानकारी रखना जरूरी है तो चलिए आपकी जानकारी बढ़ने के लिए आज हम operating system ke tutorial in hindi से कंप्यूटर से जुड़ी कुछ उपयोगी जानकारी प्राप्त करते है जैसे की operating system kya hai?

जरूर पढ़ें: History of Computer in Hindi – (कंप्यूटर का इतिहास हिंदी में जानें)

what is operating system in hindi

Operating System क्या है ?

ऑपरेटिंग सिस्टम आपके कंप्यूटर में system Software होता है। जिसको टेक्निकल वर्ड में OS के नाम से भी जानते है.सिंपल वर्ड में परिभाषित करे तो दरअसल Program का एक ऐसा सेट है,जिसमे कंप्यूटर के लिए अनगिनत instruction है जब यूजर्स कंप्यूटर को कोई task निर्देश के रूप में देता है।

ऐसे में इन्ही प्राप्त निर्देशों की सहायता से टास्क को पूरा करता है।  OS आपके सिस्टम में Main Software होता है जिसकी भूमिका बाकी software और Program को चलाने का कार्य करते है उदाहरण के लिए Windows ,Os, VLC player,Photoship,MS office आदि सॉफ्टवेयर को चलाने का कार्य करते है।

जरूर पढ़ें: Cloud Computing क्या है What is cloud computing & it’s uses in Hindi

 दूसरे शब्दों में एक तरह से ऑपरेटिंग सिस्टम

ऑपरेटिंग सिस्टम एक सिस्टम सॉफ्टवेयर है ये यूजर्स को उसके हिसाब के कंप्यूटर हार्डवेयर के बीच में interface की तरह फंक्शन करता है।

सीधे तौर पर अगर समझना चाहते है तो ऐसे समझ सकते है कंप्यूटर का यूज तो आप सभी करते होंगे तो उस समय आपको OS के माध्यम से ही आप विभिन्न कार्य कर सकते है।

जब आप कंप्यूटर पर कोई सॉन्ग सुनते है,word document के आपको double click करते है इस दौरान आपने देखा होगा की तीन चार विंडो एक साथ Open कर देते है।

ऑपरेटिंग का मतलब क्या है (ऑपरेटिंग सिस्टम क्या है)?

अपनी सुविधा के लिए keyboard के द्वारा टाइपिंग करने के लिए आप इनमे से कुछ file computer में save करते है तो ये सारे कार्य बगैर Operating System की सहायता के बिना नहीं कर सकते है।

 इस प्रकार से मोटे तौर पर आप समझ ही गए होगे की OS एक ऐसा software की सहायता से आप अपने सिस्टम यानी की कंप्यूटर को यूज करते है compter को ओपन करते के लिए भी आपको Operating System की आवश्यकता होती है।

अब आपके मन में प्रश्न उठ रहा होगा की आखिर इसको system software के नाम से लोग क्यों पुकारते है तो इसके लिए आपकोे क्लियर कर दूं।

आपके Computer में users software यानी की Application Software को चलना चाहते है तो ऐसे में OS के जरिए ही आप अपने सिस्टम पर कार्य कर सकते है।

Operating system का मुख्य फंक्शन क्या होता है ? इसका आइडिया तो अब तक आपको लग ही गया होगा जैसे ही यूजर्स keyboard से कुछ Input लेकर उसके द्वारा दिए गए निर्देश को Process करता है और Output को अपने कंप्यूटर स्क्रीन पर शो करता है।

इस प्रकार से what is operating System in hindi के बारे में आपको बहुत सारी जानकारी मिल जायेगी।

अपने कंप्यूटर को on करते समय आप ऑपरेटिंग के जरिए ही करते है ये तो आपको अब तक पता चल गया होगा वही जब कंप्यूटर बंद करते है तब भी आप इसी के जरिए बंद करते है User को शायद इस बात का अंदाजा नहीं होता की आपके कंप्यूटर में Game,MS word,Adobe Reader,VLC मीडिया जैसे और भी सॉफ्टवेयर कंप्यूटर के अंदर कार्य करते है इन सभी को चलाने के लिए एक बड़े software की जरूरत पड़ती है जिससे हम Operating System के नाम से जानते है।

जरूर पढ़ें: MS Excel क्या है और इसे कैसे सीखें? (What is MS Excel in Hindi )

Operating system की उपयोगिता क्या है इसकी भी जानकारी आपको मिल गई होगी अब आप सोच रहे होगे की ऐसे कौन कौन से ऑपरेटिंग सिस्टम है जोकि आमतौर पर लोग उपयोग करते है अपने कंप्यूटर सिस्टम में इसकी लिस्ट नीचे दी गई है आप इससे समझ सकते है।

Windows operating system kya hai

1.Microsoft Window

2.Google’s Androids OS

3.Apple iOS

4.Apple macOS

5.Linux operating System

ऊपर ऑपरेटिंग सिस्टम की जो लिस्ट दी गई है वो तो रहे ऑपरेटिंग सिस्टम के उदाहरण हालाकि इनके अलावा भी  इसको  बहुत सारे अलग अलग नाम आते है लेकिन आमतौर पर लोग इनसे इन्हीं नामो से जानते है।

Operating system के कार्य

आपके कंप्यूटर में operating system की उपयोगिता का जिक्र करे तो यह Main memory यानी की RAM में लोड करने का कार्य करता है इसके अलावा इसकी भूमिका users software को कौन कौन से Hardware की जरूरत है ये सब Allocate करने का कार्य Operating system का ही होता है इसके कुछ function की जानकारी नीचे दी गई है।

1.Memory management के लिए

मेमोरी मैनेजमेंट से संबंध की बात करे तो primary और Secondary Memory को मैनेज करने का कार्य इसी का होता है

2. Process Management के लिए

जब multi programming Environment का जिक्र किया जाता है तो उस समय OS निश्चित करता है की Process को Processor मिलेगा और किस नही और इसके साथ ही कितने समय में मिलेगा।

3.Device Management के लिए

यूजर्स अपने कंप्यूटर सिस्टम में driver का अवश्य तौर पर इस्तेमाल करते होगे जिनमे sound driver, bluetooth driver के साथ ही Graphic Driver के अलावा Wifi Driver भी शामिल है इन सभी को अलग अलग input/output Device को चलाने में OS की जरूरत होती है।

इस प्रकार से आपको हमारे आज के ब्लॉग में operating system in hindi के बारे में विभिन्न जानकारी प्राप्त हुई अगर आपके पास ऑपरेटिंग सिस्टम से जुड़ी और कोई प्रश्न है तो आप हमसे कमेंट करके पूछ सकते है आपको हमारा ब्लॉग OS in hindi कैसा लगा आप हमे कॉमेंट करके बता सकते है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top